दीपिका को पीछे छोड़ते हुए सोनम इस हफ्ते नंबर वन,प्रियंका चोपड़ा दूसरे स्थान पर

फिल्म पैडमैन की रिलीज के बाद स्कोर ट्रैंड्स इंडिया के पॉपुलैरिटी चार्ट में बॉलीवुड की स्टाइल आइकन सोनम कपूर टॉप पर पहुंच गई हैं। जबकि पिछले पांच हफ्तों से दीपिका पादुकोण नंबर वन पर रहीं हैं। जी हां ‘रानी पद्मावती’ दीपिका को पीछे छोड़ते हुए सोनम इस हफ्ते नंबर वन बन गई हैं। सोनम कपूर के बाद इस लिस्ट में ग्लोबल आइकन प्रियंका चोपड़ा दूसरे स्थान पर है

अनुष्का से भी पीछे हुईं दीपिका, मिली ये जगह… 
स्कोर ट्रेंड्स के आंकड़ों के मुताबिक, 1 फरवरी से 8 फरवरी की अवधि के दौरान सोनम कपूर 44.97 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर थी। लेकिन अब 8 फरवरी से 15 फरवरी की अवधि के दौरान सोनम ने 23.73 अंक की बढ़त दर्ज करते हुए 68.70 अंकों के साथ टॉप पोजीशन हासिल किया हैं। वहीं, पिछले कुछ हफ्तों से नंबर वन स्थान पर बरकरार रहीं दीपिका इस हफ्ते 54.41 अंको के साथ पांचवे नंबर पर हैं।

ऐसे होता है नंबर्स का कलेक्शन…
“यह नंबर फेसबुक, ट्विटर, प्रिंट प्रकाशन, वायरल न्यूज, ब्रॉडकास्ट और डिजिटल प्लेटफॉर्म जैसे सैकड़ों सोर्सेज से उठाए गए हैं और फिर कई मॉडर्न एल्गोरिदम इस विशाल डेटा की प्रोसेस में हेल्प  करते हैं। जिससे बॉलीवुड सितारों के स्कोर और रैंकिंग तक हम पहुंच पाते हैं।”

आगे पढ़िए आखिर कैसे सोनम बनीं नंबर वन…

सोनम कपूर इस हफ्ते अव्वल स्थान पर आने की वजह फेसबुक, ट्विटर, वायरल समाचार, समाचार पत्रों और डिजिटल साइट्स पर पैडमैन की रिलीज के वक्त उनकी बढ़ती पॉपुलैरिटी बताई जा रहीं है।

प्रियंका को मिली ये जगह…प्रियंका भी हुईं पीछे
इस हफ्ते दूसरे स्थान पर आई इंटरनैशनल आइकन प्रियंका चोपडा पिछले हफ्ते चौथे स्थान पर थी। लेकिन पिछले हफ्ते 31.37 अंकों पर रहीं प्रियंका 29.82 अंकों की बढत से नंबर 2 स्थान पर पहुंच गई हैं। स्कोर ट्रेंड्स के मुताबिक, 67.19 अंको के साथ दिख रहीं प्रियंका, उनके एक फिल्म मैगजीन में छपें बोल्ड इंटरव्यू की वजह से दूसरे स्थान पर पहुंच गयीं हैं।

डाटा और एल्गोरिदम की महत्वपूर्ण भूमिका
स्कोर ट्रेंड्स में डाटा और एल्गोरिदम की महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में बताते हुए अश्विनी कौल कहतें हैं, “एटोमेटेड एल्गोरिदम से हर सेलिब्रिटी के बारे में निष्पक्ष स्कोर मिलने मे मदद होती है।”  “मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी तकनीकों की वजह से डाटा काउंटिंग के वक्त सेलिब्रिटी के बारे में डाटा खोजना और उससे हर हफ्ते के उनके स्कोर गिनना आसान होता हैं। संक्षेपित डाटा प्रकाशित होने से पहले वह विभिन्न गुणवत्ता नियंत्रणों और मापदंड से गुजरता है।”

Share this...
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *