भाजपा वोट बैंक के चक्कर में देश को गृहयुद्ध में झोंकने को तैयार : के के

आदित्यनाथ योगी केवल हिन्दूओं के मुख्यमंत्री नहीं,हर कौम के मुख्यमंत्री है,उन्हें ब्यापक देने से पहले सोचना चाहिए
भाजपा का दोगला चेहरा आया सामने,एक तरफ हिंसा रोको नाटक दूसरी तरफ भाजपा सांसद दे रहे भड़काऊ बयानबाज़ी
श्रीऔश्री रविशंकर को किसने दी हिंदूओं की ठेकेदारी : के के शर्मा

तैय्यब हुसैन
नई दिल्ली। आज़ादभारत कांग्रेस के मुख्यालय से जारी एक बयान में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के के शर्मा ने कहा कि भाजपा का चेहरा बेनकाब हो चुका है। एक तरफ कहती है हिंसा रोको दूसरी तरफ भाजपा सांसद भड़काऊ बयानबाज़ी कर रहे हैं। कोई लेनिन को आंतकवादी बता रहा है कोई देश को सीरिया बन जाने का खौफ पैदा कर रहा है। कोई हिन्दू होने पर गर्व और जनेऊ और टोपी पर संवेदनशील बाते कही जा रही है। जो बेहद शर्मनाक और लोकतंत्र के खिलाफ है। इससे साफ जाहिर है भाजपा अपने वोट बैंक के चक्कर में देश में गृहयुद्ध झुकने को तैयार है।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी कि मुझे हिन्दू
होने पर घमंड है। हम उनमें नहीं जो घर में जनेऊ पहनते है बाहर जाकर टोपी लगाते हैं। केके शर्मा ने चुटकी लेतेहुए कहा कि योगी स्पष्ट करे कि क्या वो सिर्फ हिन्दूओं के मुख्यमंत्री है ? शर्मा ने कहा कि ये घटिया मानसिकता है।योगी पूरे प्रदेश की जनता के मुख्यमंत्री है योगी को ऐसी बयानबाज़ी का कोई अधिकार नहीं है। उनकी बयानबाज़ी असंवैधानिक है। ऐसा कहकर वे मुसलमानों के अंदर खौफ पैदा करना चाहते हैं।

शर्मा ने कहा कि त्रिपुराऔर पेरियार में लेनिन सहित कई मूर्तिया तोड़ी गई। भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी कहते है लेनिन आंतकवादी थे। शर्मा ने कहा स्वामी को पूर्वजों के अपमान का अधिकार किसने दिया। उन्होंने कहा किसी की मूर्तियां टूटने से विचार नही बदलते। उन्होंने कहा आज़ादभारत कांग्रेस इसकी निंदा करती है। भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी के बयान पर भाजपा को सार्वजनिक माफी मांगनी चाहिए।
श्रीश्री रविशंकर स्वयंभू हिन्दूओं के ठेकेदार राम मंदिर पर सहमति बनाने के प्रयास कर रहे हैं, दूसरी तरफ भारत को सीरिया बनाने की बात कहकर खौफ पैदा करना चाहते हैं। के के शर्मा ने कहा श्री श्री को किसने दी हिंदूओं की ठेकेदारी सौपी है ? ऐसे बयान किसकी शय पर दिये जा रहे है।इसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरी कौम को अपमानित करने और धमकाना असंवैधानिक और लोकतंत्रके खिलाफ है।

आज़ाद भारत कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के के शर्मा ने कहा कि ऐसी बयानबाज़ी पर रोक लगनी चाहिए, नहीं तो आज़ाद भारत कांग्रेस इसके खिलाफ सड़कों पर आकर आंदोलन छेड़ेगी।

Share this...
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *